Aaj Stock Market Kyu Gira : शेयर बाजार क्यों गिरता हैं जानें कारण

5/5 - (1 vote)

Aaj Stock Market Kyu Gira : शेयर मार्केट का तात्पर्य स्टॉक, इक्विटी तथा अन्य वित्तीय प्रतिभूतियों की खरीद एवं बिक्री से है।

यदि आप स्टॉक मार्केट में रुचि रखते हैं अथवा एक नियमित निवेशक हैं, तो आपने वाक्यांश को सुना है“स्टॉक मार्केट आज नीचे है”।

इसका क्या मतलब है? तथा क्या यह अच्छा है? बुरा है? जवाब इस बात पर डिपेन्ड करता है कि आप इसे कैसे समझते हैं। इस लेख में, हम समझाएंगे कि स्टॉक मार्केट क्रैश क्या है, इसके कारण, प्रभाव एवं आप इन्वेस्टर के रूप में, आपके पोर्टफोलियो को प्रभावित किए बिना इसके साथ कैसे निपट सकते हैं।

लेकिन सबसे पहले हम समझते हैं कि स्टॉक मार्केट कैसे काम करता है।

स्टॉक मार्केट एक सुरक्षित एवं विनियमित वातावरण हैं जहां इच्छुक प्रतिभागी स्टॉक्स एवं अन्य वित्तीय साधनों में लेनदेन कर सकते हैं। जो कम्पनीज अतिरिक्त पूंजी बढ़ाने के लिए चाहते हैं, वे अपने व्यवसाय पर नियंत्रण खोए बिना स्टॉक मार्केट पर बिक्री के लिए अपनी कंपनी के स्टॉक्स को सूचीबद्ध कर सकते हैं। निवेशक विभिन्न प्रकार के स्टॉक तथा कॉर्पोरेट बॉन्ड खरीद एवं बेच सकते हैं, न केवल अपने वित्तीय पोर्टफोलियो में विविधता बल्कि उनके धन को भी जोड़ सकते हैं।

लेकिन स्टॉक मार्केट में इन्वेस्ट जोखिम की एक निश्चित डिग्री के साथ आता है। स्टॉक मार्केट्स में इन्वेस्टर्स को एक दिन कट्टरपंथी फायदा बनाने के लिए अस्थिर होने के लिए जाना जाता है महत्वपूर्ण नुकसान दूसरे पीड़ित। हर इन्वेस्टर की सबसे बड़ी चिंता का विषय स्टॉक मार्केट दुर्घटनाओं से संबंधित है एवं यह उनके इन्वेस्ट को कैसे प्रभावित करेगा।

इन्वेस्टर्स को हुए भारी नुकसान

स्टॉक मार्केट में तेज गिरावट से इन्वेस्टर्स को भारी नुकसान हुआ है. BSE पर उपलब्ध आंकड़ों के मुताबिक लिस्टेड कम्पनीज का कुल मार्केट कैप दोपहर 12:55 बजे तक 261.83 लाख करोड़ रुपए हो गया है. यह मंगलवार को मार्केट बंद होने के बाद 265.25 लाख करोड़ रुपए था. यानी इन्वेस्टर्स का करीब 3.4 लाख करोड़ रुपए साफ हो गया है.  एक्सचेंज डाटा के मुताबिक आज दोपहर तक मार्केट में 2554 स्टॉक लाल निशान में कारोबार कर रहे हैं|  

स्टॉक मार्केट की कीमतें क्यों बदलती हैं

स्टॉक मार्केट एक अस्थिर वातावरण है जहां स्टॉक की कीमतें हर दिन बदलती हैं। यह आपूर्ति तथा मांग जैसे कारकों के कारण होता है। यदि स्टॉक मार्किट खरीदने वाले लोगों की संख्या अधिक है, तो इसका मतलब है कि उस स्टॉक मार्केट की आवश्यकता बढ़ जाती है। इसके साथ ही उस स्टॉक मार्केट की कीमत भी बढ़ जाती है। इसके विपरीत, अगर वहाँ अधिक लोग हैं, जो लोग इसे खरीदना चाहते हैं की संख्या की तुलना में एक स्टॉक बेचने के लिए कर रहे हैं, वहाँ मार्केट में इसके लिए मांग की तुलना में स्टॉक की एक बड़ी आपूर्ति है। यह स्टॉक की कीमत में गिरावट का कारण बनता है।

एक इन्वेस्टर अथवा व्यापारी के रूप में, आपूर्ति एवं मांग को समझना आसान है। हालांकि, जो समझना अथवा समझना अधिक चुनौतीपूर्ण है, वह किसी विशेष स्टॉक मार्केट को खरीदने अथवा किसी ओथेर को नापसंद करने के कारण हैं जो इसे बेचना चाहते हैं। मुख्य रूप से, यह भी एड्रेस लगाने के लिए नीचे आता है कि एक कम्पनीज के लिए कौन सी न्यूज़ सकारात्मक हैं एवं कौन सी न्यूज़ नकारात्मक हैं। यह प्रत्येक इन्वेस्टर के साथ एक जटिल समस्या है जिससे निपटने के लिए उनके विचार एवं रणनीतियाँ हैं

खेल में प्रमुख सिद्धांत यह है कि स्टॉक के ऊपर एवं नीचे मूल्य आंदोलन इंगित करता है कि इन्वेस्टर एक कंपनी एवं इसके लायक के बारे में क्या महसूस करते हैं। कम्पनीज के मूल्य को प्रभावित करने वाले इम्पोर्टेन्ट कारकों में से एक इसकी कमाई है। सरल शब्दों में, कमाई वह फायदा होती है जो कम्पनीज द्वारा कंपनी में इन्वेस्ट की गई प्रारंभिक पूंजी से अधिक एवं उससे ऊपर बनाती है। लंबे टाइम में, प्रत्येक कंपनी को प्रतिस्पर्धी माहौल में जीवित रहने में सक्षम होने के लिए फायदा बनाना चाहिए।

कई अन्य कारक स्टॉक्स की कीमत को प्रभावित करते हैं एवं जिस तरह से मार्केट बढ़ रहा है। व्यापार से संबंधित कारकों के अलावा, स्टॉक्स की कीमतें अर्थव्यवस्थाओं, मुद्रास्फीति, इंटरेस्ट दरों, विदेशी मार्केट , वैश्विक वित्त एवं अधिक को बदलने से भी प्रभावित होती हैं। इन्वेस्टर्स को मार्केट के रुझान के शीर्ष पर रहने के लिए सक्षम होने के लिए बदलते घटनाक्रम लिए बाहर देखना चाहिए। यह जानकारी उन्हें निर्णय लेने के लिए प्रेरित करती है जो नुकसान से बचने में सहायता करेगी। जब बहुत सारे स्टॉक इतने हद तक प्रभावित होते हैं कि यह मार्केट में लहर पैदा कर सकता है, तो यह स्टॉक बाजार क्रैश का कारण बन सकता है।

निफ्टी अथवा सेंसेक्स में गिरावट होने पर

निफ्टी अथवा सेंसेक्स के गिरने का सबसे बड़ा कारण होता है इंडिया की बड़ी कंपनियों के स्टॉक कीमत में गिरावट होना। चाहे भारतीय स्टॉक मार्केट हो अथवा दुनिया का कोई भी स्टॉक मार्केट, अगर वहां की इंडेक्स में गिरावट होती है तो आपको वहां के स्टॉक मार्केट में भी गिरावट जरूर देखने को मिलेगी।

  • निफ्टी 50 में इंडिया की 50 सबसे बड़ी कंपनियां आती है तो इसका मतलब है कि अगर निफ्टी इंडेक्स गिरता है तो स्टॉक मार्केट भी गिरेगा।
  • इसी प्रकार सेंसेक्स के गिरने से भी स्टॉक मार्केट में गिरावट होती है क्योंकि इसमें देश की टॉप 30 कंपनियां आती है।

निफ्टी या सेंसेक्स का गिरना इस बात पर डिपेंड करता है कि मार्केट में इन्वेस्टर्स का सेंटीमेंट कैसा है मतलब अगर स्टॉक होल्डर्स किसी दिन मार्केट पर बुलिश हैं तो स्टॉक मार्केट ऊपर जाएगा एवं अगर बियरिश हैं तो स्टॉक मार्केट नीचे गिरेगा।

निष्कर्ष

इस लेख Aaj Stock Market Kyu Gira की सम्पूर्ण जानकारी दी गयी है. इस प्लान को Aaj Stock Market Kyu Gira ’ कहते हैं तथ इसका नंबर 936 है. आपको यह लेख कैसा लगा अपने सुझाव कमेट कर के बताएं एवं इसे अधिक से अधिक लोगों के साथ साझा करें.

 Join Our Group For All Information And Update, Also Follow Me For Latest Information
 Follow US On Google NewsClick Here
 Whatsapp Group Join NowClick Here
 Facebook PageClick Here
 InstagramClick Here
 Telegram Channel  Telegram ChannelClick Here
Telegram Channel Sarkari YojanaClick Here
 TwitterClick Here

Leave a Comment